Headlines News :
Home » , » farman no. 8 index

farman no. 8 index

Written By Lal Kitab Vision 1952 on Friday, 17 July 2015   No comments ,

फरमान नंबर 8
Page No.
12 पक्के घर 56
लग्न का घर या कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 1 57
हर एक ग्रह की अपनी हुकूमत यानि खाना नंबर 1 में आने के वक्त दूसर ग्रहों की उसके मुकाबले में ताकत का पैमाना 59
कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 2- धर्म स्थान उम्र बुढ़ापा 60
धरम स्थान या पेशानी का दरवाज़ा 62
अंगूठा – ख्वाह हात का ख्वाह (चाहे) पाँव का 63
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 3 इस दुनिया से कूच के वक्त र्हाहे रवानगी (बीमारी वगैरा) 65
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 4 माता की गोद व पेट का ज़माना 66
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 5 औलाद मुस्तकबिल का ज़माना 68

लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 6 दुनियावी जड़ पातळ के दुनिया-रहम का खजाना, खुफ़िया मदद 69
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 7 गृहस्ती चक्की 73
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 8 – मुकाम फ़ानी 75
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 9 – आगाज़ किस्मत 77
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 10 – किस्मत की बुनियाद का मैदान 79
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 11 – गुरु अस्थान जाये इंसाफ (इंसाफ करने कराने के जगह या मुकाम मगर ख़ुद इंसाफ नहीं) या इंसानी क़िस्मत की बुनियाद 80
खाना नंबर 11 के ग्रहों की बेऐतबारी की हालत 81
खाना नंबर 11 कियाफा – पेशानी 86
लग्न कुंडली का पक्का घर खाना नंबर 12 – इंसाफ मगर इंसाफ करने करने की जगह नहीं, आरामगाह ख़्वाब- अवस्था इन्सान का सिर 90
12 ही पक्के घर मुश्तरका (मिले-जुले) 91
सोये हुए पक्के घर या पक्के घरों में बैठे मगर सोए हुए ग्रह 96

सोया ग्रह कब ख़ुद बा ख़ुद जग पड़ेगा (टेबल सारणी) 99
ग्रह दृष्टि
ग्रह द्रष्टि 101
आम हालत नंबर – 1 102
उलटे घर (आम हालत नंबर -2)
ग्रहों की बाहम (आपसी) दृष्टि व रशिओं (कुंडली के खानों) से ताल्लुक 104
100 फ़ीसदी और अपने से बाद के सातवे देखने का फ़र्क 107
ग्रह का असर-ग्रह में और ग्रह का असर दूसरे ग्रह के घर में और उनका फ़र्क 108
सेहत बीमारी-शादी और्लाद मकान वगैरह ख़ास-ख़ास चीजों की दृष्टि 110
योग दृष्टि बावक्त सेहत बीमारी (टेबल सारणी) 112
ग्रहों की बाहम (आपसी) दृष्टि के वक्त उनके मुस्तरका (मिले-जुले) असर के मिकदार (मात्रा) (टेबल सारणी) 113
योग दृष्टि (बाहमी मदद) 114
आम हालत 115

टकराव 115
बुनियादी 116
धोखा 117
मुश्तरका दिवार 117
अचानक चौट 118
कुंडली में पहले या बाद के घरों के ग्रह 119
उलझन के ग्रह 121
ऋण पितृ का ग्रह 122
ऋणों की किस्मे जैसी करनी वैसी भरनी नहीं की तूने तो कर के देख 125
ऋण पितृ की पहली हालत 128
ऋण पितृ की दूसरी हालत
जब ग्रह मुताल्लिका की जड़ में उसका दुश्मन ग्रह बैठा हो 128
ऋण पितृ के उपाय 129
महादशा का ग्रह 142

चंद्र कुंडली 144
किस ग्रह चल के वक्त महादशा होगी (टेबल सारणी) 146
धोखे का ग्रह (कैसे परख करें) 147
सूरज नंबर 12 वाली कुंडली 148
धोका के ग्रह की तलाश (सूरज नंबर 11 वाली कुंडली) 149
पेशानी में ग्रहों की तरतीब 150

Share this post :

Post a Comment

 
Support : Tips Hindi Mein | Vaneet Nagpal
Copyright © 2011. लाल किताब 1952 - All Rights Reserved
Template Created by Vaneet Nagpal Published by Tips Hindi Mein
Proudly powered by Blogger