Headlines News :
Home » » lal-kitab-page-no-20

lal-kitab-page-no-20

Written By Lal Kitab Vision 1952 on Saturday, 13 December 2014   No comments


वास्ता न बता सका तो आकिर पर हर दो इल्मों को इकठ्ठा किया गया मगर फिर भी यही मालूम हुआ कि बुनयादी उसूलों की वाकफियत के बगैर कोई मतलब न होगा | लिहाज़ा शक को दूर करने के लिए या इसका फायदा उठाने के लिए इस इल्म में ग्रामर फलादेश और योग बंधन वगरेह के अलाहदा हिस्से मुकर्रर हुए

Share this post :

Post a Comment

 
Support : Tips Hindi Mein | Vaneet Nagpal
Copyright © 2011. लाल किताब 1952 - All Rights Reserved
Template Created by Vaneet Nagpal Published by Tips Hindi Mein
Proudly powered by Blogger